33 C
Delhi
Friday, October 30, 2020

चीन में मुसलमानों पर बढ़े अत्याचार, मस्जिद गिरा कर बना दिया सार्वजनिक शौचालय

चीन में उइगर मुसलमानों पर अत्याचारों का सिलसिला बढ़ता जा रहा है । कई तरह की पाबंदियां लगाकर उनके मनोबल को भी...

RELATED POST

दिल्ली का आज का COVID19 का रिपोर्ट आ गया, देखे कितने लोगों की मौत और कितने नए संक्रमित हुए

स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में गुरुवार को 1,215 नए कोरोनोवायरस के मामले दर्ज किए गए, जो इस दौरान 1.57...

पूरे दिल्ली में अलर्ट: शुरू हुआ झमाझम बारिश, दिन में ही हो गया रात जैसा नजारा, अगले 6 घंटे हैं भारी

देश की राजधानी दिल्ली और एनसीआर में आज सुबह से आकाश में बादल छाए हैं और बारिश होने के साथ ही मौसम...

दिल्ली मेट्रो और कार अब एक ही पीलर पर दौड़ेगी, दिल्ली मेट्रो ने शुरु किया काम, दिल्ली वालों की होगी बल्ले बल्ले

एक नजर पूरी खबर दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) ने 22 किलोमीटर लंबे एयरोसिटी-तुगलकाबाद मेट्रो कॉरिडोर पर काम शुरू...

हरियाणा में विधायकों को करवाना होगा कोरोना टेस्ट, नहीं तो विधानसभा में No Entry

हरियाणा विधानसभा का 26 अगस्त से शुरू होने वाले मानसून सत्र के लिए विधायकों, मंत्रियों, अधिकारियों और पत्रकारों को सदन में प्रवेश...

Amit Shah Hospitalized: कोरोना को मात देने वाले केंद्रीय मंत्री अमित शाह एम्स में भर्ती, अस्पताल ने जारी किया बयान

चार दिन पहले ही कोरोना वायरस संक्रमण को शिकस्त देने वाले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संथान...

Chandrayaan 2: विक्रम लैंडर की कमी पूरा करेगा ऑर्बिटर, एक की बजाय सात साल करेगा काम जानिए कैसे

दबंग खबर । Chandrayaan 2 मिशन के डाटा एनालिसिस से वैज्ञानिकों को नई-नई जानकारियां मिल रही हैं। ऐसी ही एक जानकारी चंद्रयान-2 के ऑर्बिटर की है। लैंडर विक्रम से संपर्क टूटने के कुछ देर बाद ही वैज्ञानिकों ने स्पष्ट कर दिया था कि ऑर्बिटर अच्छे से काम कर रहा है और संपर्क में है। वह पूर्व निर्धारित प्रोग्राम के अनुसार चंद्रमा के चक्कर लगा रहा है। ऑर्बिटर ने रविवार को इसरो को दो खुशखबरी दी। पहला उसने थर्मल इमेजेस के जरिए लापता लैंडर का पता लगा लिया है। दूसरा ये कि ऑर्बिटर, लैंडर की कमी को काफी हद तक पूरा करेगा।

जी हां, चंद्रयान-2 मिशन के लिए ये बड़ी खुशखबरी है कि ऑर्बिटर अब एक साल की बजाय सात साल से ज्यादा समय तक काम करेगा। ये भी इसरो के वैज्ञानिकों के लिए बड़ी उपलब्धि है। दरअसल, वैज्ञानिकों ने पूरे मिशन में ऑर्बिटर को इस तरह से नियंत्रति किया है कि उसमें उम्मीद से ज्यादा ईंधन बचा हुआ है। इसकी मदद से ऑर्बिटर सात साल से ज्यादा समय तक, तकरीबन साढ़े सात साल तक चंद्रमा के चक्कर काट सकता है। ये जानकारी इसरो प्रमुख के सिवन ने मीडिया से बातचीत के दौरान दी है।

लैंडर से संपर्क साधने पर फोकस
इसका मतलब ये है कि ऑर्बिटर अब एक साल बजाय सात साल तक काम करते हुए इसरो को कहीं ज्यादा जानकारी भेज सकता है। वैज्ञानिक ऑर्बिटर से प्राप्त डाटा का अध्ययन कर इस दिशा में काम कर रहे हैं। फिलहाल, इसरो का पूरा फोकस फिलहाल चांद की दक्षिणी सतह पर उतरे लैंडर विक्रम से दोबारा संपर्क स्थापित करने का है। दरअसल, लैंडर को एक लूनर डे (पृथ्वी के 14 दिन) तक खोज करने के लिए ही बनाया गया है। इस दौरान उससे दोबारा संपर्क होने की संभावना ज्यादा है। इसके बाद भी लैंडर से संपर्क स्थापित हो सकता है, लेकिन उसकी संभावना बहुत कम हो जाएंगी।

दो तरह की ऊर्जा की आवश्यकता होती है
वैज्ञानिकों के अनुसार ऑर्बिटर, लैंडर और रोवर को काम करने के लिए दो तरह की ऊर्जा की आवश्यकता होती है। पहली एलिक्ट्रिकल ऊर्जा होती है, जिसका इस्तेमाल उपकरणों को चलाने के लिए किया जाता है। ये ऊर्जा ऑर्बिटर, लैंडर और रोवर पर लगे सोलर पैनलों के जरिए सूर्य की रोशनी से मिलती है। इन उपकरणों को दूसरी ऊर्जा के लिए ईंधन की जरूरत होती है, जिसका इस्तेमाल इनकी दिशा में परिवर्तन के लिए किया जाता है। इसरो प्रमुख के सिवन के अनुसार हमारे ऑर्बिटर में अभी उम्मीद से ज्यादा ईंधन बचा हुआ है। इसकी मदद से चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर सात साल से ज्यादा समय तक सफलतापूर्वक चंद्रमा के चक्कर लगा सकता है।

सॉफ्ट की जगह हुई हार्ड लैंडिंग
इसरो को चंद्रयान-2 के लैंडर की चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सॉफ्ट लैंडिंग करानी थी। सॉफ्ट लैंडिंग हॉलिवुड की साइंस फिक्सन फिल्मों में दिखाई जाने वाली उड़नतस्तरियों जैसी होती है। सॉफ्ट लैंडिंग में लैंडर की गति को धीरे-धीरे कम किया जाता है, ताकि वह आराम से चांद की सतह पर पूर्व निर्धारित जगह पर उतर सके। अंतिम समय पर जब लैंडर चंद्रमा की सतह से महज 2.1 किमी की दूरी पर था लैंडर विक्रम से संपर्क टूट गया। इस वजह से चांद पर उसकी सॉफ्ट लैंडिंग होने की बजाय हार्ड लैंडिंग हुई। हार्ड लैंडिंग में लैंडर या स्पेसक्राफ्ट चांद की सतह पर क्रैश करता है मतलब गिरता है। अब तक अमेरिका, रूस और चीन ही चांद की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग करने में कामयाब रहे हैं। हालांकि, ये तीनों देश भी अब तक चांद के सबसे जटिल दक्षिणी ध्रुव पर अब तक नहीं पहुंचे हैं, जहां भारत ने अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी है।

ऑर्बिटर से उम्मीदें बढ़ीं
एक साल की बजाय सात साल तक काम करने योग्य ईंधन होने की वजह से ऑर्बिटर से उम्मीदें बढ़ गई हैं। ऑर्बिटर फिलहाल चांद की कक्षा में 100 किलोमीटर की दूरी पर सफलतापूर्वक चक्कर काट रहा है। हालांकि, 2379 किलो वजन के ऑर्बिटर को एक साल तक के मिशन के लिए प्रोग्राम किया गया है। वैज्ञानिकों के अनुसार ऑर्बिटर चूंकि ठीक से काम कर रहा है और वह पहले की तुलना में ज्यादा समय तक काम कर सकता है तो इसका मतलब ये है कि आने वाले दिनों में उससे कई अहम डाटा प्राप्त हो सकते हैं। इनकी मदद से वैज्ञानिकों को कई नई जानकारियां प्राप्त हो सकती हैं।

Chandryaan-2: जानिए- विक्रम से क्यों टूटा ISRO का संपर्क, वैज्ञानिक बता रहे ये कारण

चंद्रयान-1 से ज्यादा आधुनिक
इसरो के मुताबिक चंद्रयान-2 में इस्तेमाल किया जा रहा ऑर्बिटर चंद्रयान-1 के ऑर्बिटर से कहीं ज्यादा आधुनिक है। चंद्रयान-1 के मुकाबले चंद्रयान-2 के ऑर्बिटर में ज्यादा आधुनिक और वैज्ञानिक उपकरण लगे हुए हैं। ये सभी उपकरण बहुत अच्छे से काम कर रहे हैं। इतना ही नहीं इसरो ने चंद्रयान-2 के ऑर्बिटर में अब तक के सबसे ज्यादा रेज्यूलूशन वाले कैमरे का इस्तेमाल किया है। ये कैमरे चंद्रमाकी सतह की अब तक की सबसे अच्छी तस्वीरें लेने के लिए लगाए गए हैं। ये तस्वीरें केवल भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया की स्पेस एजेंसियों के लिए काफी मददगार साबित होंगे

Latest Posts

किराड़ी के हरसुख ब्लॉक में बिजली कर्मियों ने नंगी तारों को बदला

नई दिल्ली: किराड़ी विधानसभा क्षेत्र के हरसुख ब्लॉक के वार्ड 42 में दिल्ली टाटा पावर डिस्ट्रीब्यूशन के कर्मचारियों ने बिजली की समस्या दूर...

किराड़ी: जलभराव बना बड़ी मुसीबत, मकान गिरने से परिवार हुआ बेघर

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में जलभराव और पानी की निकासी की समस्या आम होती जा रही है. किराड़ी विधानसभा की बृज विहार कॉलोनी...

किराड़ी के कर्ण विहार पार्ट 3 में लोगों ने पार्षद रविंद्र भारद्वाज का किया घेराव

नई दिल्ली: किराड़ी विधानसभा के वार्ड 41 कर्ण विहार पार्ट 3 में साफ सफाई को लेकर आम आदमी पार्टी के पार्षद रविंद्र भारद्वाज...

किसानों से हुई बर्बरता का हिसाब लिया जाएगा -PWD प्रदेशाध्यक्ष जयकिशन शर्मा

किसानों से हुई बर्बरता का हिसाब लिया जाएगा -PWD प्रदेशाध्यक्ष जयकिशन शर्माकेंद्र सरकार द्वारा लाए गए 3 अध्यादेशों का विरोध करने के...

Don't Miss

संसद में अमित शाह ने ओवैसी की जुबान पर लगाया ताला, बीच सदन में आर-पार

लोकसभा में सोमवार को राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी को और अधिक ताकत देने वाले संशोधन बिल को पेश किया गया और चर्चा शुरु...

मुस्लिम धर्मगुरू ने किया मोदी सरकार के इस फैसले का स्वागत, धन्यवाद भी दिया

जयपुर। केंद्र की मोदी सरकार ने मदरसों में शिक्षा को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है और इस फैसले के अनुसार...

जान‍िए क्‍यों महिला ने पकड़ी दिल्‍ली के सीएम केजरीवाल की शर्ट, बोली- मेरी बात खत्‍म नहीं हुई

नई दिल्ली, दबंग खबर । दिल्‍ली की केजरीवाल सरकार के द्वारा महिलाओं के लिए मेट्रो फ्री करने के बाद से दिल्‍ली में  राजनीतिक...

नोरा फतेही का पछताओगे सॉन्ग हुआ रिलीज, गाने में विक्की को प्यार में धोखा देती दिखाई दी

दबंग खबर । विक्की कौशल (Vicky kaushal) और नोरा फतेही (Nora fatehi) का मोस्ट अवेटेड सॉन्ग 'पछताओगे' (Pachtaoge) रिलीज हो चुका है। इस गाने...

भूलकर भी महिलायें रात को न करें यह 5 काम, वरना पति के लिए बढ़ जाती है मुसीबत

भारतीय परंपरा में वास्तु शास्त्र का काफी महत्व है। भारत में इसे मानने वाले लोग भी बहुत हैं और जो लोग वास्तु...

इतने करोड़ रुपए की संपत्ति छोड़ गए हैं अरुण जेटली अपने बच्चों के लिए

दबंग खबर | पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के कद्दावर नेता अरुण जेटली का लंबी बीमारी के बाद शनिवार को एम्स अस्पताल...

लुंगी-चप्पल पहनकर गाड़ी चलाने पर नहीं काट सकता कोई चालान, अफवाहों से रहिये सावधान

दबंग खबर | नए मोटर व्हीकल कानून लागू होने के बाद से ताबड़तोड़ चालान काटे जा रहे हैं. इस दौरान यह भी...

वॉशरूम समझकर यात्री ने खोल दिया पाक विमान का इमरजेंसी डोर, जानिये फिर क्या हुआ…

नई दिल्ली:  पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) की उड़ान में सवार एक महिला यात्री से गलती से विमान...

पहले ही टास्क को लेकर लोगो ने कहा बिग बॉस 13 फ्लॉप शो, जमकर किया ट्रोल

दबंग खबर | बिग बॉस 13 के पहले एपिसोड में सेलेब्रिटी एक्सप्रेस में क्या तड़का लगाएंगी, ये जानने के लिए फैंस बेहद...

लता मंगेशकर ने रानू मंडल को दी ‘सख्त नसीहत’, कही ये बड़ी बातें

दबंग खबर | रेलवे स्टेशन पर भीख मांगकर जिंदगी गुजारने वाली रानू मंडल अब स्टार बन चुकी है। सोशल मीडिया पर हर...
Corona Updates