33 C
Delhi
Saturday, September 19, 2020

सास-बहू ने 4 साल के मासूम की चढ़ाई थी बलि, अब कोर्ट ने सुनाई ये खौफनाक सजा

बिहार के गोपालगंज में 4 साल के मासूम को न्याय मिल गया। यहां कोर्ट ने दो महिलाओं को फांसी की सजा सुना...

RELATED POST

कीमती कार में चिड़िया ने दिए अंडे, दुबई के प्रिंस ने कहा- बच्चों के बड़े होने तक नहीं चलेगी कार

शेख हमदान बिन मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम. ये भारी भरकम नाम दुबई के क्राउन प्रिंस का है. हाल फिलहाल सोशल मीडिया...

चीन में मुसलमानों पर बढ़े अत्याचार, मस्जिद गिरा कर बना दिया सार्वजनिक शौचालय

चीन में उइगर मुसलमानों पर अत्याचारों का सिलसिला बढ़ता जा रहा है । कई तरह की पाबंदियां लगाकर उनके मनोबल को भी...

ड्रैगन को अजीत डोभाल ने दी अपने दम पर मात, चीनी सेना के साथ इस तरह से सुलझाया सीमा विवाद

अजित डोभाल फिर से साबित हुए गेम चेंजर, बदल कर रख दिया भारत-चीन में संबंधों का खेल चीन की...

चीन से तनाव के बीच अचानक लेह पहुंचे पीएम मोदी, जवानों से की बात

वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीन के साथ सीमा विवाद के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अचानक लेह के दौरे पर पहुंचे हैं। चीफ...

सीमा पर तनाव कम करने के लिए भारत-चीन के बीच चुशूल में बैठक

नई दिल्ली । लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर चीन के साथ सीमा विवाद को सुलझाने के लिए दोनों देशों में कमांडर लेवल की...

22 साल की उम्र में बेटे ने पिता की मौत का बदला लेने के लिए बन गया उत्तर भारत का खतरनाक डाकू ‘ददुआ’

नई दिल्ली/ दबंग खबर । ददुआ(Dadua) चित्रकूट-बांदा क्षेत्र का एक ऐसा नाम है, जिसे लगभग हर कोई जानता है। चित्रकूट-बांदा क्षेत्र के बच्चे-बच्चे की जुबान पर ददुआ का नाम चढ़ा हुआ है। चित्रकूट-बांदा क्षेत्र के पाठा जंगलों में ददुआ का नाम खौफ और आतंक का पर्याय था। हालांकि, ददुआ को लेकर कभी भी लोगों में एकमत नहीं रहा, लेकिन आज भी लोगों का कहना है कि वह गरीबों के लिए मसीहा था। वहीं व्यापारियों और धनी लोगों के लिए ददुआ उनके लिए वह चेहरा बन गया था, जिसके मिट जाने पर इनमें खुशी का माहौल था।

फतेहपुर में बना है मंदिर
लंबे समय तक उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड(Bundelkhand) के बीहड़ों और मध्य प्रदेश के विंध्य क्षेत्र में अपना सिक्का जमाए रखने वाले ददुआ का फतेहपुर(Fatehpur) के नरसिंहपुर कबराहा(Narsinghpur Kabraha) गांव में एक मंदिर भी है, जहां उसकी और उसकी मां की मूर्ती स्थापित की गई है। ददुआ का जन्म उत्तर प्रदेश के चित्रकूट के देवकली गांव में राम पटेल सिंह के घर में हुआ था। ददुआ का असली नाम शिवकुमार पटेल था, जिसकी मंदिर में लगी मूर्ति और पुलिस रिकॉर्ड में सामने आई फोटो के अलावा किसी ने झलक तक नहीं देखी थी।

आठ लोगों की हत्या से शुरू हुआ सफर
ददुआ का नाम उस वक्त सुर्खियों में छा गया था, जब उसने 22 साल की उम्र में अपने ही गांव के आठ लोगों की हत्या कर दी और गांव से फरार हो गया। इसके बाद तो जैसे लोगों के लिए शिवकुमार पटेल मर ही गया और एक नया नाम ‘ददुआ’ लोगों के लिए आतंक बन कर छा गया। ददुआ ऐसा खतरनाक डकैत था, जिसके खिलाफ मध्य प्रदेश(Madhya Pradesh) और उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) के थानों में हत्या, लूट और डकैती जैसे 400 से भी ज्यादा मामले दर्ज थे।

Image result for dadua

बता दें ददुआ पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने 10 लाख का ईनाम रखा था, वहीं इसके अलावा मुख्यमंत्री द्वारा भी ददुआ की सूचना देने वाले को 10 लाख अतिरिक्त ईनाम देने की घोषणा की गई थी।

ममता ने PM मोदी को लिखा पत्र, कहा- भ्रष्टाचार खत्म करने के लिए बुलाई जाए मीटिंग

1975 में दर्ज हुआ पहला मामला
ददुआ के खिलाफ पहला मामला 1975 में दर्ज हुआ था। जिसमें उसके खिलाफ भैंस चोरी का आरोप था, लेकिन 1978 में अपने ही परिवार के एक सदस्य की हत्या करने के बाद वह घर से भाग गया। ददुआ ने करीब 32 सालों तक मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और राजस्थान(Rajasthan) के कुछ इलाकों में अपना आतंक जमाए रखा, लेकिन पुलिस(Police) उसकी परछाई तक को नहीं छू पाई।

Image result for dadua

ऐसे में जब 2007 में एसटीएफ की टीम ने मानकपुर जनपद चित्रकूट(Chitrakoot) के क्षेत्र में 20 सदस्यीय टीम के साथ ददुआ गैंग को घेर लिया और अंततः ददुआ और उसके कई साथियों को मार गिराया तो ददुआ के एनकाउंटर(Encounter) की खबर सामने आई तो जैसे इन राज्यों ने राहत की सांस ली। ददुआ का असर और प्रभाव का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता था कि उसकी मौत पर किसी को भरोसा ही नहीं हो रहा था।

पिता की मौत का बदला लेने के लिए उठाया हथियार
कहते हैं ददुआ ने अपनी पिता की मौत का बदला लेने के लिए हथियार उठाया था और उन्हीं आठ लोगों की हत्या की थी, जिन्होंने उसके पिता को बिना कपड़ों के पूरे गांव में घुमाया था और इसके बाद सबके सामने कुल्हाड़ी से मौत के घाट भी उतार दिया। जिसके बाद अपने पिता की मौत का बदला लेने के लिए ददुआ ने आठों लोगों को मौत के घाट उतार दिया और पाठा के जंगलों में कूद गया।

व्यापार में भी रहा सक्रिय
पाठा में ददुआ ने अपनी गैंग बनाई और इस दौरान उसने व्यापार और राजनीति में भी अपने पैर जमाने शुरू कर दिए। ददुआ काफी समय तक तेंदू पत्ते के व्यापार में सक्रिय रहा। इस दौरान मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश के वन क्षेत्रों में ददुआ के सामने कोई भी आवाज ऊंची करने की हिम्मत ना कर सका। 

हालांकि राजनीति में पैर जमाने का उसका सपना अधूरा रह गया, लेकिन जाते-जाते उसने अपने पूरे परिवार को विधायक और सांसद बनाने में वह पूरी तरह सफल रहा। बता दें ददुआ के भाई बालकुमार पटेल सपा से सांसद रह चुके हैं, जबकि बेटा वीर सिंह और भतीजा राम सिंह विधायक रह चुके हैं। 

Latest Posts

किसानों से हुई बर्बरता का हिसाब लिया जाएगा -PWD प्रदेशाध्यक्ष जयकिशन शर्मा

किसानों से हुई बर्बरता का हिसाब लिया जाएगा -PWD प्रदेशाध्यक्ष जयकिशन शर्माकेंद्र सरकार द्वारा लाए गए 3 अध्यादेशों का विरोध करने के...

महाराष्ट्र के मंत्री आदित्य ठाकरे को लेकर रिया चक्रवर्ती का नया खुलासा

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के केस की सबसे बड़ी सं’दिग्ध रिया चक्रवर्ती जिसके बारे में आये दिन एक नया खुलासा हो...

न खाता न बही, जो राहुल कहें वही सही, जानिए क्यों कांग्रेस में नहीं तय हो पा रहा कि ‘परिवार’ बचाया जाए या ‘पार्टी’

सुदृढ़ और उर्जावान नेतृत्व की कमी, खेमेबाजी और क्षमता की बजाय चाटुकारिता को मिल रहे प्रश्रय से जूझ रही कांग्रेस की हालत...

भारत-चीन सीमा विवाद पर बोले CDS रावत- बातचीत फेल हुई तो सैन्य कार्रवाई पर विचार

चीफ आफ डिफेंस स्‍टाफ जनरल बिपिन रावत ने सोमवार को भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि...

Don't Miss

संसद में अमित शाह ने ओवैसी की जुबान पर लगाया ताला, बीच सदन में आर-पार

लोकसभा में सोमवार को राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी को और अधिक ताकत देने वाले संशोधन बिल को पेश किया गया और चर्चा शुरु...

मुस्लिम धर्मगुरू ने किया मोदी सरकार के इस फैसले का स्वागत, धन्यवाद भी दिया

जयपुर। केंद्र की मोदी सरकार ने मदरसों में शिक्षा को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है और इस फैसले के अनुसार...

जान‍िए क्‍यों महिला ने पकड़ी दिल्‍ली के सीएम केजरीवाल की शर्ट, बोली- मेरी बात खत्‍म नहीं हुई

नई दिल्ली, दबंग खबर । दिल्‍ली की केजरीवाल सरकार के द्वारा महिलाओं के लिए मेट्रो फ्री करने के बाद से दिल्‍ली में  राजनीतिक...

इतने करोड़ रुपए की संपत्ति छोड़ गए हैं अरुण जेटली अपने बच्चों के लिए

दबंग खबर | पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के कद्दावर नेता अरुण जेटली का लंबी बीमारी के बाद शनिवार को एम्स अस्पताल...

पहले ही टास्क को लेकर लोगो ने कहा बिग बॉस 13 फ्लॉप शो, जमकर किया ट्रोल

दबंग खबर | बिग बॉस 13 के पहले एपिसोड में सेलेब्रिटी एक्सप्रेस में क्या तड़का लगाएंगी, ये जानने के लिए फैंस बेहद...

वॉशरूम समझकर यात्री ने खोल दिया पाक विमान का इमरजेंसी डोर, जानिये फिर क्या हुआ…

नई दिल्ली:  पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) की उड़ान में सवार एक महिला यात्री से गलती से विमान...

लुंगी-चप्पल पहनकर गाड़ी चलाने पर नहीं काट सकता कोई चालान, अफवाहों से रहिये सावधान

दबंग खबर | नए मोटर व्हीकल कानून लागू होने के बाद से ताबड़तोड़ चालान काटे जा रहे हैं. इस दौरान यह भी...

नोरा फतेही का पछताओगे सॉन्ग हुआ रिलीज, गाने में विक्की को प्यार में धोखा देती दिखाई दी

दबंग खबर । विक्की कौशल (Vicky kaushal) और नोरा फतेही (Nora fatehi) का मोस्ट अवेटेड सॉन्ग 'पछताओगे' (Pachtaoge) रिलीज हो चुका है। इस गाने...

भूलकर भी महिलायें रात को न करें यह 5 काम, वरना पति के लिए बढ़ जाती है मुसीबत

भारतीय परंपरा में वास्तु शास्त्र का काफी महत्व है। भारत में इसे मानने वाले लोग भी बहुत हैं और जो लोग वास्तु...

लता मंगेशकर ने रानू मंडल को दी ‘सख्त नसीहत’, कही ये बड़ी बातें

दबंग खबर | रेलवे स्टेशन पर भीख मांगकर जिंदगी गुजारने वाली रानू मंडल अब स्टार बन चुकी है। सोशल मीडिया पर हर...
Corona Updates