33 C
Delhi
Wednesday, October 21, 2020

चीन में मुसलमानों पर बढ़े अत्याचार, मस्जिद गिरा कर बना दिया सार्वजनिक शौचालय

चीन में उइगर मुसलमानों पर अत्याचारों का सिलसिला बढ़ता जा रहा है । कई तरह की पाबंदियां लगाकर उनके मनोबल को भी...

RELATED POST

बेबस पिता का दर्द, ‘मैं गुहार लगाता रहा, पुलिस दुतकारती रही ऐसे कैसे बेटी पढ़ाएं, बेटी बचाएं’

दबंग खबर | देश में खूब जोरों-शोरों से बेटी पढ़ाएं, बेटी बचाओ का नारा सुनने को मिलता है। सच भी है। देखा...

बिग बॉस: सलमान के शो में होगा फुलऑन एंटरटेनमेंट, किये जाएँगे ये 13 सबसे बड़े बदलाव

दबंग खबर | कंट्रोवर्सियल शो बिग बॉस का 13वां सीजन सबसे ज्यादा एंटरटेनिंग और मसालेदार होने वाला है. सीजन 13 के 29...

Paytm को 4217 करोड़ का भारी घाटा, आमदनी अठन्नी तो खर्च रुपैया

दबंग खबर | डिजिटल पेमेंट वर्ल्ड की दिग्गज Paytm की पैरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस को 31 मार्च को खत्म पिछले वित्त वर्ष...

गणपति के जयकारे लगाते दिखे तैमूर अली खान, वीडियो वायरल

दबंग खबर | बॉलीवुड स्टार सैफ अली खान और करीना कपूर खान के बेटे तैमूर अली खान पब्लिक के फेवरेट स्टारकिड्स में...

स्मृति ईरानी ने NRC पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘कोई भी भारतीय नहीं छूटेगा’

दबंग खबर । केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) का विरोध करने पर पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) पर निशाना साधते...

कपिल मिश्रा ने कहा- महाठग केजरीवाल को दिल्ली की जनता सबक सिखाने के लिये हैं बेकरार

दबंग खबर ।  जब 2012 में अन्ना आंदोलन अपने चरम पर था तो अचानक से अरविंद केजरीवाल ने ‘आप पार्टी’ बनाने की घोषणा की तो इससे देश भर में फैले भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने वाले ही नहीं चोंके बल्कि सभी राजनीतिक दलों की तो मानो जमीन खिसकने का डर ही पैदा हो गया था। कारण केजरीवाल ने वायदा किया था कि अब भ्रष्टाचार को अगर खत्म करना है तो इसके जड़ राजनीतिक व्यवस्था में उतरना होगा। अन्ना आंदोलन से ही अरविंद केजरीवाल के सहयोगी रहे कपिल मिश्रा उनके प्रमुख सहयोगी बने। अन्ना आंदोलन को भले ही अन्ना हजारे सामने से लीड कर रहे हो लेकिन पर्दे के पीछे से अरविंद केजरीवाल और उनकी टीम सारी गतिविधि को चला रहे थे। इसी टीम में केजरीवाल के सबसे भरोसेमंद के तौर पर कपिल मिश्रा भी एक प्रमुख साथी होकर उभरे थे।


कभी कपिल मिश्रा को केजरीवाल ने 2013 और फिर 2015 के दिल्ली विधानसभा के चुनाव में उतारा तो जीत का सेहरा लिये मिश्रा विधानसभा भी पहुंचे। कपिल केजरीवाल मंत्रिमंडल में मंत्री भी बनें। लेकिन समय बदलते देर नहीं लगती। जब कपिल मिश्रा ने सीएम केजरीवाल पर आरोप लगाया कि साहब हमनें तो सतेंन्द जैन से सीएम को 2 करोड़ रुपये घूस लेते हुए देखा है। बस इसी दिन से कपिल मिश्रा और केजरीवाल के बीच छत्तीस का आंकड़ा हो गया। यह बात खत्म करते हुए यहां विराम लगायेंगे कि यही कपिल मिश्रा है जिसने नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर पहले जमकर निशाना साधा था। अब क्या सोचते है यह उनसे ही सुनेंगे।

1. कभी आप बीजेपी और नरेंद्र मोदी के खिलाफ मोर्चा खोला था, क्या अब वो सारे मुद्दे खत्म हो गए है, जो आरोप आपने पहले लगाया था? इसका मतलब पहले के आपके आरोप गलत थे?

उत्तरः जब कभी बीजेपी के ग्राफ पर नजर दोड़ाएगा तो पहले 1980 में जाना होगा जब पार्टी की लोकसभा में मात्र 2 सांसद थे। उसके बाद 89 सांसद चुनकर लोकसभा पहुंचे। उसके बाद 180, फिर 272 और इस बार 303 लोकसभा सांसद चुनकर आए हुए है। अब दिल्ली में आईए बीते लोकसभा चुनाव में बीजेपी को 56 प्रतिशत वोट मिला। अभी जो पार्टी ने सदस्यता अभियान चलायी तो 17 लाख नए सदस्य बने है। अब इसी 17 लाख में भी मुझे भी जोड़ लीजिए। पहले तो यह लोग बीजेपी में नहीं थे। दिल्ली की जनता में मेरी भी भावना शामिल है। चूंकि देश में पिछले 5 साल में ऐतिहासिक काम हुए है। जिससे प्रभावित होकर हमने लाखों लोगों की तरह ही भी बीजेपी की सदस्यता ली है।



इसका मतलब है कि जो पार्टी कभी 2 सीट पर थी आज 303 सांसद चुनकर लोकसभा को सुशोभित कर रही है। बीजेपी का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है। जो लोग पहले बीजेपी में नहीं थे अब बीजेपी में आ रहे है। मतलब देश बदल रहा है, दिल्ली बदल रही है। सभी लोगों का हृदय परिवर्तन हो रहा है। यह सही है कि पीएम नरेंद्र मोदी से प्रभावित होकर ही बीजेपी की सदस्यता ली है।      

जहां तक पहले नरेंद्र मोदी के विरोध का सवाल है तो पहले हम भी शंका की नजर से उन्हें देखते थे। जैसे देश भर के अन्य लोग पहले मोदी पर शंका करते थे, मुझे भी शंका था। लेकिन जो मन में पहले शंका था वो सब दूर हो गया है। हम सभी देख रहे है कि पिछले 5 साल में पीएम मोदी ने देश को कैसे चलाया है। दुनिया में आज भारत का डंका पीटा जा रहा है तो इसलिये कि हमारे पास मोदी जैसा प्रधानमंत्री है। जिस पर हमें गर्व होना चाहिये।

पहले जो भी आरोप मैंने लगाया था उसके लिये माफी मांग लिया है। सारे शंका दूर हो चुके है। हमने ‘I SUPPORT NAMO’ पर 2 साल पहले ही अपने पहले के आरोप को लेकर सार्वजनिक तौर पर माफी मांग ली है। तो बार-बार इस तरह का प्रश्न उठाना सही नहीं है।

आप देखिये कि लोकसभा चुनाव में 65 विधानसभा सीट पर बीजेपी को जीत हासिल हुई है। लोकसभा चुनाव के समय मैंने ‘मेरा पीएम मेरा अभिमान’, और ‘दिल्ली की सातों सीटें मोदी को’ चलाया था तो दिल्ली की जनता ने खुलकर मोदी और बीजेपी को वोट दिया। अब अगर इसके बाद भी हम दिल्ली की जनता के भावना के  विरुद्ध चलेंगे तो लोग केजरीवाल कहना शुरु कर देंगे। क्योंकि ‘उल्टी चाल चलना’ तो केजरीवाल को ही आता है। समय आ गया है कि राजधानी को मोदी के हाथ में सौंप देनी चाहिये जिससे यहां विकास की गति तेज हो पाएगी। आगामी विधानसभा चुनाव के बाद दिल्ली सचिवालय में भगवा ध्वज लहराएगा।

2. कपिल जी बीजेपी अब आपका स्थायी ठिकाना है या आगे की क्या रणनीति होगी?

उत्तरः देखिये बीजेपी से मेरा परिवार वर्षों से जुड़ा रहा है। इसमें कोई दो मत नहीं है। मेरे पिताजी का संघ से जुड़ाव बहुत ही पुराना रहा है तो वहीं माताजी बीजेपी से councillar and mayor रही है। जहां तक मेरा सवाल है तो स्पष्ट कर दूं कि युवावस्था में जैसे हर घर का लड़का जोश में कोई कदम उठा लेता है वैसे ही मैनें भी कुछ नादानी कर ली थी। वो एक कहावत है कि ‘सुबह का भूला अगर शाम को लौटे तो उसे भूला नहीं कहा जाता है’।  

मेरे लिये एक तरह से बीजेपी में आने का मतलब है कि घर वापसी हुई है। सभी लोगों के लिये जैसे घर हमेशा स्थायी होता है। मेरा भी बीजेपी ही स्थायी ठिकाना है। मेरा स्वागत जिस तरह से बीजेपी में हुआ है, उससे भाव-विभोर हो गया हूं। मेरे समर्थक भी लंबे समय से चाहते थे कि सही निर्णय लिया जाए। और आज मुझे बहुत संतोष हुआ है कि मैं भी अब बीजेपी का एक कार्यकर्ता हो गया हूं।

Navodayatimes



3. आप बार-बार केजरीवाल पर देश और दिल्ली को धोखा देने का आरोप कैसे लगा सकते है?

उत्तरः यह आरोप नहीं है बल्कि आज केजरीवाल का सच है, जो जनता के सामने आ गया है। ‘केजरीवाल एंड टीम’ एक ऐसे लोगों की जमात बनकर रह गई है जिन्हें भ्रष्टाचार पर लड़ना ही नहीं है। तभी तो आज शरद पवार जैसे लोग केजरीवाल और राहुल गांधी के बीच गठबंधन कराने के लिये दोनों को इकठ्ठे मंच पर ले आते है। वहीं केजरीवाल कनिमोई और ए राजा जैसे भ्रष्टाचारी का स्वागत करने के लिये अपने आवास पर पलकें बिछाए रहते है। यह सब देखकर भीतर से दुःख होता है कि सत्ता का लालच आपको किस हद तक गिरा सकता है। कुछ दिन पहले तक चिदंबरम, केजरीवाल का वकील बनते-फिरते थे। लेकिन हाल देखिये क्या हुआ है।  


आज प्रशांत भूषण, चिदंबरम की गिरफ्तारी का विरोध कर रहे है। कभी यहीं लोग, चिदंबरम को जेल भेजने का दावा करते थे। सच तो यह है कि जिन्होंने अन्ना आंदोलन और फिर दिल्ली की जनता के साथ छलावा किया है, उसे जवाब देना पड़ेगा। असल में अन्ना आंदोलन को इस्तेमाल करके जो अपना धंधा चलाना चाहते थे, वैसे लोग आज बुरी तरह जनता की नजर में expose हो गये है।

4. आगामी विधानसभा चुनाव में दिल्ली का क्या मुद्दा रहेगा? आखिर जनता बीजेपी को क्यों वोट करेगी? बिना सीएम उम्मीदवार के आखिर कैसे केजरीवाल को चुनौती देगी बीजेपी?

उत्तरः असल में दिल्ली का विकास ही मुद्दा है। इसलिये केजरीवाल मुद्दा नहीं है। वे मुद्दों को भटकाने की पुरजोर कोशिश करेंगे। हां केजरीवाल का भ्रष्टाचार बहुत बड़ा मुद्दा है, दिल्ली की जनता को जिसने धोखा दिया है। उससे आगामी विधानसभा चुनाव में जनता बदला लेने के मूड में आ गई है। अब तो केजरीवाल से हिसाब लेने का वक्त आ गया है। राजधानी में बीते 5 साल में कोई नए अस्पताल नहीं बने है। दिल्ली का विकास महत्वपूर्ण है, बस यहीं मुद्दा है।

आप देखिये कि बीते नगर निगम के चुनाव में ही जनता ने केजरीवाल को नकार दिया था। फिर लोकसभा चुनाव में दोबारा नकार दिया। केजरीवाल अगर काम करते तो आज दिल्ली की सूरत बदल जाती। अगर झुग्गी झोपड़ी वाले लोगों के हित में काम किये होते तो निगम और लोकसभा में वोट मिलता। राजधानी बस अब ‘दिल्ली चलें मोदी के साथ’ के थीम पर चलना चाहती है। मुझे पूरा विश्वास है कि दिल्ली की 60 सीटें बीजेपी जीतेगी।

Navodayatimes


हम सभी ने चिदंबरम के भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ी तो लाठियां खाई थी और आज केजरीवाल उसके साथ गलबहियां कर रहे है। केजरीवाल सरकार के मंत्री पर बैनामी संपत्ति और हवाला के आरोप चल रहे है, फिर वो मनीष सिसोदिया हो, सतेंद्र जैन ही क्यों न हो।  मैंने निर्णय लिया है दिल्ली की जनता को धोखा देने वाले को बेनकाब करके रहेंगे।

हम लोग दिल्ली की जनता को केजरीवाल के काले कारनामे के बारे में बताएंगे। आज आप पार्टी और इसके मुखिया को तो जनता ने नकार दिया है। अगर स्कूल में अच्छी पढ़ाई होती तो उनके माता पिता क्या निगम और लोकसभा चुनाव में आप पार्टी को वोट नहीं करते। अगर झुग्गी-झोंपड़ी में पानी देते तो क्या वे लोग नहीं वोट करते। आप देखिये कि चुनाव के समय केजरीवाल ने कैसे जनता की गाढ़ी कमाई को विज्ञापन में पानी की तरह बहा दिया

Latest Posts

किराड़ी के हरसुख ब्लॉक में बिजली कर्मियों ने नंगी तारों को बदला

नई दिल्ली: किराड़ी विधानसभा क्षेत्र के हरसुख ब्लॉक के वार्ड 42 में दिल्ली टाटा पावर डिस्ट्रीब्यूशन के कर्मचारियों ने बिजली की समस्या दूर...

किराड़ी: जलभराव बना बड़ी मुसीबत, मकान गिरने से परिवार हुआ बेघर

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में जलभराव और पानी की निकासी की समस्या आम होती जा रही है. किराड़ी विधानसभा की बृज विहार कॉलोनी...

किराड़ी के कर्ण विहार पार्ट 3 में लोगों ने पार्षद रविंद्र भारद्वाज का किया घेराव

नई दिल्ली: किराड़ी विधानसभा के वार्ड 41 कर्ण विहार पार्ट 3 में साफ सफाई को लेकर आम आदमी पार्टी के पार्षद रविंद्र भारद्वाज...

किसानों से हुई बर्बरता का हिसाब लिया जाएगा -PWD प्रदेशाध्यक्ष जयकिशन शर्मा

किसानों से हुई बर्बरता का हिसाब लिया जाएगा -PWD प्रदेशाध्यक्ष जयकिशन शर्माकेंद्र सरकार द्वारा लाए गए 3 अध्यादेशों का विरोध करने के...

Don't Miss

संसद में अमित शाह ने ओवैसी की जुबान पर लगाया ताला, बीच सदन में आर-पार

लोकसभा में सोमवार को राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी को और अधिक ताकत देने वाले संशोधन बिल को पेश किया गया और चर्चा शुरु...

मुस्लिम धर्मगुरू ने किया मोदी सरकार के इस फैसले का स्वागत, धन्यवाद भी दिया

जयपुर। केंद्र की मोदी सरकार ने मदरसों में शिक्षा को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है और इस फैसले के अनुसार...

जान‍िए क्‍यों महिला ने पकड़ी दिल्‍ली के सीएम केजरीवाल की शर्ट, बोली- मेरी बात खत्‍म नहीं हुई

नई दिल्ली, दबंग खबर । दिल्‍ली की केजरीवाल सरकार के द्वारा महिलाओं के लिए मेट्रो फ्री करने के बाद से दिल्‍ली में  राजनीतिक...

नोरा फतेही का पछताओगे सॉन्ग हुआ रिलीज, गाने में विक्की को प्यार में धोखा देती दिखाई दी

दबंग खबर । विक्की कौशल (Vicky kaushal) और नोरा फतेही (Nora fatehi) का मोस्ट अवेटेड सॉन्ग 'पछताओगे' (Pachtaoge) रिलीज हो चुका है। इस गाने...

भूलकर भी महिलायें रात को न करें यह 5 काम, वरना पति के लिए बढ़ जाती है मुसीबत

भारतीय परंपरा में वास्तु शास्त्र का काफी महत्व है। भारत में इसे मानने वाले लोग भी बहुत हैं और जो लोग वास्तु...

इतने करोड़ रुपए की संपत्ति छोड़ गए हैं अरुण जेटली अपने बच्चों के लिए

दबंग खबर | पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के कद्दावर नेता अरुण जेटली का लंबी बीमारी के बाद शनिवार को एम्स अस्पताल...

लुंगी-चप्पल पहनकर गाड़ी चलाने पर नहीं काट सकता कोई चालान, अफवाहों से रहिये सावधान

दबंग खबर | नए मोटर व्हीकल कानून लागू होने के बाद से ताबड़तोड़ चालान काटे जा रहे हैं. इस दौरान यह भी...

वॉशरूम समझकर यात्री ने खोल दिया पाक विमान का इमरजेंसी डोर, जानिये फिर क्या हुआ…

नई दिल्ली:  पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) की उड़ान में सवार एक महिला यात्री से गलती से विमान...

पहले ही टास्क को लेकर लोगो ने कहा बिग बॉस 13 फ्लॉप शो, जमकर किया ट्रोल

दबंग खबर | बिग बॉस 13 के पहले एपिसोड में सेलेब्रिटी एक्सप्रेस में क्या तड़का लगाएंगी, ये जानने के लिए फैंस बेहद...

लता मंगेशकर ने रानू मंडल को दी ‘सख्त नसीहत’, कही ये बड़ी बातें

दबंग खबर | रेलवे स्टेशन पर भीख मांगकर जिंदगी गुजारने वाली रानू मंडल अब स्टार बन चुकी है। सोशल मीडिया पर हर...
Corona Updates